खुलासा: बेटे ने दूसरे पक्ष को फंसाने के लिए कराई अपने ही पिता की हत्या

कमल नेगी, पोलखोल न्यूज़ 1/10/2017 10:52:14 PM
img

अलीगढ़ में बाइकर्स गैंग की खूनी रंजिश में एक बुजुर्ग पिता की बलि चढ़ाने का सनसनीखेज मामला सामने आया है| करीब दो महीने पहले थाना क्वार्सी क्षेत्र में हुए प्रेमवीर हत्याकांड का पुलिस ने पर्दाफाश कर दिया है| पुलिस के मुताबिक बाइकर्स गैंग के वीरपाल ने दूसरे गुट को फंसाने के लिए जेल में बैठकर पिता की हत्या की साजिश रची थी| इसमें एक दूसरे गुट के लोग नामजद किए गए थे| बहरहाल, पुलिस लाइन में एसएसपी ने पूरे मामले का पर्दाफाश करते हुए दो लोगों को गिरफ्तार कर हत्या में प्रयुक्त हथियार भी बरामद किए हैं| इस बाबत अलीगढ़ एसएसपी राजेश कुमार सिंह ने बताया कि क्वार्सी थानाक्षेत्र के देवसैनी निवासी प्रेमवीर सिंह उर्फ दारोगा जी (75) पेशे से एक किसान थे| जानकारी के मुताबिक प्रेमवीर बीते 16 अक्टूबर की सुबह दूध लाने घर से पैदल निकले थे| वापस आते समय बाइक सवार हमलावरों ने पीछे से प्रेमवीर पर दो गोलियां दाग दी थीं, जिससे उनकी मौके पर ही मौत हो गई| एसएसपी ने बताया कि तब मृतक के बड़े बेटे योगेंद्र ने हत्या के मूल में रंजिश बताते हुए बच्चू सिंह, अमित, बबलू होल्कर निवासी देवसैनी को नामजद करते हुए मुकदमा दर्ज कराया था| लेकिन एसपी सिटी और क्राइम ब्रांच की संयुक्त जांच में पता चला कि जो नामजदगी की गई है वो गलत है| इसके बाद जब गहनता से हत्याकांड की जांच की गई तो तथ्यों का खुलासा हुआ| एसएसपी के मुताबिक दो परिवारों में काफी समय से किसी पुरानी रंजिश को लेकर विवाद चल रहा था| उन्होंने कहा कि इसमें मृतक पक्ष से काफी लोग जेल में बंद थे| ऐसे में जेल में बैठे मृतक पक्ष के लोगों ने दूसरे पक्ष को फंसाने के लिए अपने ही पिता की हत्या की साजिश रच डाली ताकि विपक्षियों पर हत्या का सारा इल्जाम लग जाए और उन्हें जेल हो जाए|

Advertisement

img
img