ठग गिरोह के सदस्यों ने एनआरआइ को बनाया अपना शिकार

कमल नेगी, पोलखोल न्यूज़ 1/18/2017 3:28:32 AM
img

रोडवेज बस अड्डे पर ठग गिरोह के सदस्यों ने एनआरआइ को शिकार बना लिया। ठगों ने डॉलर को भारतीय मुद्रा में बदलवाने व टैक्सी बुक कराकर घर तक छोड़ने के झांसे में लेकर 806 डॉलर पर हाथ साफ कर दिया। ठग उन्हें खाली लिफाफा थमाकर फरार हो गए। पुलिस महानिदेशक के निर्देश पर शहर कोतवाली पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया है। 61 ऋषिलोक कालोनी ऋषिकेश निवासी कुलदीप चंद भसीन पुत्र त्रिलोक नाथ एनआरआइ हैं और ब्रिटेन में इंजीनियर हैं। पांच जनवरी को कुलदीप चंद अंबाला से हरिद्वार के लिए बस में बैठे थे। सायं छह बजे के करीब वह रोडवेज बस अड्डे पर खड़े थे कि दो युवक उनके पास आए। आरोप है कि युवकों ने ऋषिकेश जाने के लिए टैक्सी उपलब्ध कराने की बात कही। इस पर उन्होंने डॉलर होने एवं भारतीय मुद्रा नहीं होने की बात कही। आरोप है कि युवकों ने डॉलर को भारतीय मुद्रा में बदलने की बात कही। युवकों ने एक लिफाफा कुलदीप चंद को दिया और डॉलर को उसमें रखने के लिए कहा। कुलदीप ने उनकी बातों में आकर डॉलर को लिफाफे में रख दिया। इस दौरान युवकों ने लिफाफा बदल दिया और खाली लिफाफा कुलदीप चंद के हाथ में थमाकर टैक्सी लाने की बात कही। काफी देर तक युवकों के नहीं आने पर कुलदीप ने पाया कि लिफाफा खाली है। ठगी का शिकार होने पर इसकी सूचना एनआरआइ ने पुलिस महानिदेशक एमए गणपति को ई-मेल के जरिये की। डीजीपी ने शहर कोतवाली पुलिस को मुकदमा दर्ज करने के निर्देश दिए। कोतवाली निरीक्षक अनिल कुमार जोशी ने बताया कि दो अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। आरोपियों की तलाश की जा रही है।

Advertisement

img
img