गंगा में फंसे नौ लोग, जल पुलिस ने रेस्क्यू कर निकाला

कमल नेगी, पोलखोल न्यूज़ 1/18/2017 11:41:06 PM
img

त्रिवेणी घाट के समीप गंगा की मुख्य धारा और अस्थाई धारा के बीच टापू में फंसे ग्वालियर से यहां आए एक ही परिवार के नौ लोगों को जल पुलिस ने करीब 45 मिनट के रेस्क्यू के बाद सुरक्षित बाहर निकाल लिया। आजकल दोपहर के समय प्रतिदिन यहां का जलस्तर बढ़ता है। पहले भी कई बार यहां श्रद्धालु फंस चुके हैं। त्रिवेणी घाट गंगा तट पर वर्ष के छह माह गंगा की धारा पक्के घाट को छूकर बहती है। मगर शीतकाल में गंगा की धारा करीब 50 मीटर दूर चली जाती है। धारा को पक्के घाट तक लाने के लिए श्री गंगा सेवा समिति और प्रशासन द्वारा एक छोटी धारा निकाली गई है। सामान्यत: छोटी धारा में जल स्तर बेहद कम रहता है। जिस कारण लोग धारा को पार कर मुख्य धारा तक पहुंच जाते हैं। टिहरी बांध जलाशय द्वारा नियमित पानी छोड़े जाने के कारण दोपहर दो बजे छोटी धारा में जलस्तर बढ़ना शुरू हो जाता है। स्थानीय लोग तो इस बात को जानते हैं, मगर बाहर से आने वाले लोगों को इसकी जानकारी नहीं होती है। मकर संक्रांति के रोज भी यहां काफी भीड़ थी। दोपहर बाद जलस्तर बढ़ने पर 54 लोग दोनों धाराओं के बीच टापू में फंस गए थे। बुधवार को फिर ऐसी ही घटना हुई। हालांकि, जल पुलिस द्वारा छोटी धारा पार कर टापू पर गए लोगों को बुला लिया गया था। लेकिन, ग्वालियर से आए नौ लोग स्नान और पूजा-पाठ में इतने व्यस्त रहे कि उन्हें चेतावनी सुनाई नहीं दी। जब यह लोग करीब ढाई बजे पूजा समाप्त कर वापस आने लगे तो छोटी धारा का जलस्तर बढ़ गया था। चंद्रशेखर शर्मा (66), कालीचरण (60), तेजेंद्र शर्मा (51), सुरेंद्र शर्मा (45), राकेश (45), राधा शर्मा (46), उर्मिला (55), सुमन (40), सुशीला (65), सभी निवासी द्वारिकाधीश कॉलोनी ठठीपुर ग्वालियर टापू पर फंस गए। घाट चौकी से रेस्क्यू टीम में शामिल घाट चौकी इंचार्ज राजभर सिंह राणा, जल पुलिस के नागेंद्र सजवाण, संदीप गोस्वामी, संतोष कुमार, हरीश गुसांई लाइफ जैकेट व रस्सी लेकर यहां पहुंचे। करीब पौना घंटा चले रेस्क्यू में पुलिस ने टापू में फंसे लोगों को सुरक्षित पक्के घाट तक पहुंचाया।

Advertisement

img
img