न्यायालय भवन के निर्माण में आया बड़ा घोटाला सामने, 6 अफसरों पर केस दर्ज

कमल नेगी, पोलखोल न्यूज़ 1/21/2017 2:31:28 AM
img

राजकीय निर्माण निगम के अफसर किस तरह सरकारी धन को आपस में बाट रहे हैं, इसका बड़ा मामला भदोही में उजागर हुआ है| धन की बंदरबांट सिविल कोर्ट के निर्माण की आड़ में की गई है| जांच में पाया गया है की राजकीय निर्माण निगम के अफसरों ने दो करोड़ 66 लाख रूपये का गबन किया है| अफसरों ने 5 कंपनियों को पेमेंट तो कर दिया मगर निर्णामाधीन स्थल पर वे सारे काम हुए ही नही हैं| मामले में तत्कालीन अपर परियोजना प्रबंधक सहित 6 पर ज्ञानपुर कोतवाली में सरकारी| धन के गबन का मुकदमा दर्ज करा दिया गया है| 2011 से सरपतहा में 18 कोर्ट रूम का निर्माण कार्य कराया जा रहा है| निर्माण की जिम्मेदारी राजकीय निर्माण निगम की सोनभद्र इकाई को सौंपा गया था| जांच में पाया गया है कि मार्च 2012 से 2014 के बीच सप्लाई करने वाली कंपनियों से मिलकर अफसरों ने दो करोड़ 66 रूपये का गबन किया है| आरोप है कि अफसरों ने इन कंपनियों को पेमेंट तो कर दी मगर निर्माणाधीन स्थल पर वे सारे काम हुए ही नहीं| घोटाले की जांच फ़ैजाबाद के महाप्रबंधक आर के जैन से कराई गयी| उन्होंने जांच में इस बड़े घोटाले को उजागर किया| राजकीय निर्माण निगम के तत्कालीन अपर प्रबंधक देवेंद्र प्रताप सिंह, सहायक स्थानिक अभियंता अशोक कुमार श्रीवास्तव, लेखाकार एसपी सिंह, उप अभियंता शिवरूचि मिश्र, उप अभियंता जीतेन्द्र सिंह और उप अभियंता एसपी यादव को जांच में दोषी पाया गया है| इन सभी के खिलाफ राजकीय निर्माण निगम के अपर परियोजना प्रबंधक आर के राय की शिकायत पर ज्ञानपुर कोतवाली पुलिस ने सरकारी धन के गबन का केस दर्ज कर लिया है| अब पुलिस ने अपनी जांच शुरू कर दी है| पुलिस की जांच में सप्लाई करने वाली कंपनियों पर भी कार्रवाई की जा सकती है| भदोही के जिलाधिकारी सुरेश कुमार सिंह ने बताया कि जो भी दोषी है उनको बख्शा नहीं जायेगा| उन्होंने कहा कि जनपद भदोही के सिविल न्यायालय भवन के निर्माण के संबंध में जांच करायी गयी| जांच में २ करोड़ 66 लाख रुपये की अनियमितता प्रकाश में आयी है| इसकी रिपोर्ट परियोजना प्रबंधक ने थाना में दर्ज करा दी है और पुलिस मामले की छानबीन कर रही है|

Advertisement

img
img