भूमि धोखाधड़ी मामला: मुर्दा को जिंदा दिखाकर अधिकारी समेत तीन से ठगी

कमल नेगी, पोलखोल न्यूज़ 1/29/2017 11:39:09 PM
img

सामने आए भूमि धोखाधड़ी के मामले में एक कड़ी और जुड़ गई है। पहले ही धोखाधड़ी के एक मामले में जेल में बंद बलविंदरजीत स्याल ने एक और फर्जीवाड़े को अंजाम देते हुए मृत महिला की जमीन सैन्य अधिकारी समेत तीन लोगों को बेच दी थी। इस फर्जीवाड़े में प्रॉपर्टी डीलर ने तीनों से 13 लाख रुपये हड़पे थे। मामले में एसआइटी ने प्रेमनगर पुलिस को प्रॉपर्टी डीलर समेत पांच के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने का आदेश दिया है। पुलिस के अनुसार दिल्ली निवासी नीलम पत्नी अनिल कुमार, मंजू पत्नी राजेंद्र प्रसाद व कमला जोशी पत्नी लेफ्टिनेंट ललित मोहन जोशी ने प्रॉपर्टी डीलर बलविंदरजीत स्याल से सुद्धोवाला में एक-एक प्लॉट खरीदा था। 10 दिसंबर को बलविंदरजीत ने प्लॉट की रजिस्ट्री भी कर दी। इसके बाद तीनों खरीददार जमीन पर काबिज होने पहुंचे तो असल मालिक हर्ष विज को इसकी भनक लगी। उन्होंने रजिस्ट्री ऑफिस में पता किया तो पता चला कि उक्त तीनों रजिस्ट्री चार अक्टूबर 2013 को स्वर्गवासी हो चुकी उनकी मां रामदुलारी के नाम से की गई हैं। हर्ष विज ने इसकी शिकायत एसआइटी में की। एसआइटी की जांच में सामने आया कि फर्जीवाड़े में मुकेश सिंघानिया निवासी जीएमएस रोड, बिन्नी खोसला निवासी इंजीनियर्स एनक्लेव, बलविंदरजीत स्याल निवासी इंद्रानगर के साथ एक महिला व एक पुरुष भी शामिल था। इन महिला-पुरुष को रामदुलारी व हर्ष विज बताकर उक्त रजिस्ट्रियां की गईं। पुलिस को फर्जी रामदुलारी और हर्ष विज बनाए गए महिला-पुरुष के नाम पता नहीं चल सके हैं। एसआइटी प्रभारी एवं डीआइजी गढ़वाल रेंज पुष्पक ज्योति ने बताया कि बलविंदरजीत स्याल पहले ही जेल में बंद है। अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी जल्द कर ली जाएगी।

Advertisement

img
img