उप चुनाव आयुक्त ने दिए पांच दिनों में और तेजी से काम करने के निर्देश

कमल नेगी, पोलखोल न्यूज़| 2/11/2017 2:51:22 AM
img

उत्तराखंड राज्य में 15 फरवरी को मतदान से पहले निर्वाचन से जुड़े तमाम विभागों को अतिरिक्त रूप से सक्रिय रहने और संवेदनशील स्थानों पर अतिरिक्त टीमें तैनात करने के निर्देश दिए गए हैं। अंतिम पांच दिनों में तमाम हवाई अड्डों, हेलीपैड और अन्य स्थानों पर पुलिस और आयकर विभाग की टीमें तैनात की जाएंगी। इसके साथ ही आबकारी और आयकर विभाग को कार्रवाई तेज करने के भी निर्देश दिए गए हैं। उत्तराखंड विधानसभा चुनाव के मद्देनजर सचिवालय में भारत निर्वाचन आयोग के उप चुनाव आयुक्त संदीप सक्सेना ने राज्य में चुनाव की तैयारियों की समीक्षा की। उप आयुक्त सक्सेना ने आबकारी और आयकर विभाग को आने वाले पांच दिनों में और तेजी से काम करने के निर्देश दिए। उन्होंने पर्वतीय जनपदों में पकड़ी जा रही अवैध शराब पर संतोष व्यक्त किया। साथ ही देहरादून, हरिद्वार से पहाड़ों की ओर हो रही सप्लाई को रोकने के लिए और सख्त कदम उठाने की जरूरत भी बताई। उन्होंने हेलीपैड, हवाई अड्डे और अन्य जगहों पर पुलिस व आयकर विभाग की संयुक्त टीमें बनाकर जांच करने के निर्देश दिए। उन्होंने आयकर विभाग को जरूरत पडऩे पर बाहर से अधिकारियों को बुलाने के निर्देश भी दिए। उन्होंने देहरादून जनपद के सभी सामान्य एवं व्यय प्रेक्षकों से भी फीडबैक लिया। इस दौरान परिवहन सचिव सीएस नपलच्याल ने बताया कि चुनाव के लिए लगभग 9000 वाहनों का अधिग्रहण किया गया है। बैठक में बीएसएनएल को निर्देश दिए गए कि सभी मतदान केंद्रों पर कनेक्टिविटी को दोबारा जांच लें। जिन मतदान केंद्रों में कनेक्टिविटी नहीं है, वहां पुलिस अथवा वन विभाग के वायरलैस सेटों की स्थापना की जाए। मंडलायुक्त और सचिव सूचना विनोद शर्मा ने मीडिया की सकारात्मक भूमिका से आयोग को अवगत कराया। उन्होंने कहा कि बहुत से प्रकरणों में मीडिया की निष्पक्ष रिपोर्टिंग के कारण चुनाव मशीनरी को सहायता मिल रही है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में पेड न्यूज का एक मामला अभी तक सामने आया है और दो प्रकरणों में नोटिस जारी किए गए हैं। देहरादून की समीक्षा करते हुए उप चुनाव आयुक्त ने धर्मपुर विधानसभा (जहां वीवीपैट मशीनों का प्रयोग किया जाना है) के निर्वाचन अधिकारियों को विशेष ध्यान देने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि वीवीपैट मशीन खराब होने की स्थिति में उन्हें तत्काल बदलने की व्यवस्था की जाए। इस दौरान मुख्य निर्वाचन अधिकारी राधा रतूड़ी ने कहा कि वरिष्ठ नागरिकों, दिव्यांगों और गर्भवती महिलाओं को विशेष सुविधाएं प्रदान की जाएंगी। इस दौरान सुरक्षा व्यवस्था की समीक्षा भी की गई। उप आयुक्त ने लाईसेंसी हथियारों को जमा करने की प्रक्रिया मे तेजी लाने के निर्देश दिए।

Advertisement

img
img