पतंजलि विश्वविद्यालय में होगी साइंस और मैनेजमेंट की भी पढ़ाई

कमल नेगी, पोलखोल न्यूज़ 2/17/2017 2:43:55 AM
img

योगगुरु बाबा रामदेव व पतंजलि योगपीठ के महामंत्री आचार्य बालकृष्ण ने पतंजलि विश्वविद्यालय परिसर में आधुनिक आचार्यकुलम का शिलान्यास किया। इस मौके पर योगगुरु बाबा रामदेव ने कहा कि पतंजलि विश्वविद्यालय का यह परिसर विश्व स्तर की शैक्षिक एवं अनुसंधानात्मक गुणवत्ता से सुशोभित होगा। पतंजलि विश्वविद्यालय में अब योग के अलावा साइंस और मैनेजमेंट की भी पढ़ाई हो सकेगी। आधुनिक आचार्यकुलम में पांच हजार से ज्यादा विद्यार्थी संस्कृत, हिंदी और अंग्रेजी के अलावा विश्व की अन्य भाषाओं में भी अध्ययन कर सकेंगे। कहा कि चतुर्भाषा सिद्धांत के आधार पर देश के प्रत्येक प्रांत में पतंजलि विश्वविद्यालय की शाखाएं विस्तारित की जाएंगी। बाबा रामदेव ने कहा कि आचार्यकुलम व पतंजलि विश्वविद्यालय परिसर में देश व विश्व स्तर पर दिव्य व्यक्तित्वयुक्त नेतृत्व के विकास के लिए मनुष्य को तैयार किया जाएगा। कहा कि ऋषियों की भाषा संस्कृत, राष्ट्रभाषा हिंदी एवं अंग्रेजी के साथ ही युग की आवश्यकता के अनुरूप विश्व की अनेक भाषाओं को इस परिसर के पाठ्यक्रम में समाहित किया जाएगा। आचार्य बालकृष्ण ने बताया कि पतंजलि विश्वविद्यालय की शैक्षिक गुणवत्ता विश्व स्तर की होगी। कहा कि अभी तक पतंजलि विश्वविद्यालय योग के रूप में जाना जाता था, लेकिन अब यह परिसर योग के साथ-साथ साइंस, टेक्नोलोजी, मैनेजमेंट सहित अनेक आधुनिक विषयों की विश्व स्तरीय क्वालिटी एजुकेशन के लिए भी जाना जाएगा। इस मौके पर डॉ. यशदेव शास्त्री, गुरुदेव प्रद्युम्नमहाराज, स्वामी विवेकानन्द महाराज, महाराष्ट्र सरकार के प्रिंसिपल सेक्रेटरी, पतंजलि विश्वविद्यालय के प्रति कुलपति डॉ. कुलवंत सिंह, आचार्यकुलम के निदेशक सहित, प्राचार्य, शिक्षक आदि मौजूद थे।

Advertisement

img
img