नाभा जेल ब्रेक कांड: आतंकियों ने दून में बेची थी 27 लाख की ज्वेलरी

कमल नेगी, पोलखोल न्यूज़ 2/22/2017 10:30:45 PM
img

नाभा जेल ब्रेक कांड को अंजाम देने वाले आतंकियों ने इस कांड के लिए रकम जुटाने को डाली गई डकैती का माल देहरादून में बेचा था। इसमें अहम भूमिका निभाने वाले सुनील कालरा को लेकर पंजाब पुलिस बुधवार को देहरादून पहुंची और पलटन बाजार में एक ज्वेलर के यहां छापा मारा। पंजाब पुलिस ज्वेलर को गिरफ्तार कर देर रात रवाना हो गई। बीती 27 नवंबर को अंजाम दिए गए नाभा जेल ब्रेक कांड ने पूरे देश में सनसनी फैला दी थी। जेल ब्रेक के आरोपियों ने इस वारदात से तकरीबन तीन माह पहले एक अगस्त 2016 को पंजाब के मोगा जनपद के मॉडल टाउन थाना क्षेत्र में डकैती डाली थी। यह डकैती जेल ब्रेक कांड के लिए रुपयों का इंतजाम करने को डाली गई थी। इसमें आरोपियों ने नकदी के साथ ही करीब ढाई किलोग्राम सोना लूटा था। इस सोने को लेकर सुनील कालरा देहरादून आ गया। सुनील ने लूट का यह सोना धीरे-धीरे कर 27 लाख में पलटन बाजार स्थित सिमरन ज्वेलर्स के यहां बेच दिया। इन्हीं रुपयों से जेल ब्रेक में शामिल सुनील कालरा, पे्रमा, पेमा व अन्य के लिए हथियारों से लेकर वर्दी तक का इंतजाम किया गया। इसका पर्दाफाश जनवरी में इंदौर से सुनील कालरा की गिरफ्तारी होने के बाद हुआ था। बुधवार को पंजाब पुलिस सुनील को लेकर देहरादून पहुंची। यहां स्थानीय पुलिस के साथ पलटन बाजार में सिमरन ज्वेलर्स पर छापा मारा और उसके मालिक रणजीत सिंह निवासी पलटन बाजार को गिरफ्तार कर लिया। छापेमारी की कार्रवाई को कोतवाली की जीडी में दर्ज कराने के बाद पंजाब पुलिस देर रात सुनील व रणजीत को लेकर पंजाब रवाना हो गई।

Advertisement

img
img