पापा को अवसर मिला तो पीएम भी बनेंगे और विकास भी जारी रखेंगे: निशांत

विपुल अग्रवाल, पोलखोल न्यूज़ 2/25/2017 3:25:13 AM
img

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के बेटे निशांत ने राजनीति में आने की सभी अटकलों को विराम दिया है। बातचीत में निशांत ने आध्यात्मिक जीवन जीने की बात कही। पटना में अपनी मां को श्रद्दांजलि देने पहुंचे नीतीश के इकलौते बेटे ने कहा कि न तो राजनीति में मेरी दिलचस्पी है और न ही इस क्षेत्र में मुझे ज्ञान और रूचि हैं। मेरा प्रेम आध्यात्म से है और फिलहाल मैं उसी पथ पर चल रहा हूं। निशांत ने कहा कि मैं पूरी तरह से आध्यात्मिक जीवन ही जीउंगा। निशांत ने कहा कि इस संबंध में मैंने पापा से बात कर रखा है। निशांत ने कहा कि पहले दोनों यानि मां और पापा थे लेकिन अब मां नहीं रही तो पिता हैं, जो मेरी अच्छे से परवरिश कर रहे हैं। निशांत ने कहा कि पापा सीएम हैं, कल को अगर सीएम नहीं भी रहें तो भी वो मेरी परवरिश को सक्षम हैं। लालू के बेटों के राजनीति के बारे में सवाल पूछने पर निशांत ने कहा कि उनका रूझान और रूचि राजनीति में है, उनका राजनीति में मन लगता है। निशांत ने कहा कि जीवन गुजारने के लिये कई पथ होते हैं जिनमें से एक अध्यात्म का पथ भी है और मैंने आध्यात्म पथ को चुना है। लालू के बेटों ने पॉलिटिक्स चुना इसलिये वो राजनीति कर रहे हैं। उनके अलावा भी अखिलेश यादव, अजीत सिंह, उमर अब्दुल्ला जैसे लोग हैं जो कि परिवार के बाद राजनीति में आये हैं। निशांत ने कहा कि चुकि मेरे पिता परिवारवाद को पसंद नहीं करते ऐसे में वो भी मुझे राजनीति में आने को नहीं बोलेंगे. नीतीश में पीएम के गुण को लेकर पूछे गये सवाल पर निशांत ने कहा कि पापा में पीएम बनने के लिये गुण ही गुण हैं। वो जब से बिहार के सीएम बने हैं। उसके बाद से वो लगातार विकास कर रहे हैं। अगर देश का और देश के लोगों का भरोसा उन पर होगा तो वो भारत के पीएम भी बनेंगे और विकास जारी रखेंगे।

Advertisement

img
img