मर्डर आरोपी अख्तर का जिंदा भाई पुलिस रिकॉर्ड में मृत घोषित

भाष्कर जोशी, पोलखोल न्यूज 2/27/2017 10:45:10 PM
img

हल्द्वानी डबल मर्डर मामले की तहकीकात के दौरान आरोपी अख्तर अली का जिंदा भाई शकील रामपुर (यूपी) पुलिस के रिकॉर्ड में मृत घोषित है। हल्द्वानी पुलिस को यह जानकारी मिलने पर पुलिस ने रामपुर पुलिस को शकील के कारनामों का रिकॉर्ड भेजा है। पुलिस अब रिकॉर्ड के आधार पर आरोपी के भाई शकील पर शिकंजा कसने की तैयारी कर रही है।पुलिस के मुताबिक डबल मर्डर का आरोपी अख्तर अली मूल रूप से रामपुर जिले के अजीमनगर हरेठा का रहने वाला है। चौकी प्रभारी प्रताप सिंह नगरकोटी की जांच से पता चला कि अख्तर अली अपने भाई शकील और वसीम के साथ गांव में रहता था। वर्ष 1993 में पड़ोसी के मैंथा की फसल में आग लगाने और गुंडागर्दी करने पर ग्रामीणों ने मुकदमा दर्ज कराया था। गांव वालों के दबाव में तीनों भाइयों ने अपने मामा के गांव गद्दीमजली में शरण ली। ननिहाल में भी खुराफात करने पर ग्रामीणों ने तीनों भाइयों को भगा दिया। इसके बाद तीनों हल्द्वानी आकर रहने लगे। वर्ष 2001 में शकील का नाम बाजपुर में हुई डकैती में आया था और इस प्रकरण में उसे पुलिस ने उसे 2003 में गिरफ्तार कर लिया था। इधर, रामपुर थाने से वारंट आने पर अख्तर ने कह दिया कि शकील की मौत हो गई है। इसी कारण अदालत के वारंट वापस हो जाते थे। शकील के खिलाफ अजीमनगर थाने में दो मुकदमे दर्ज हैं। सीओ लोकजीत सिंह का कहना है कि शकील और अख्तर के बारे में रामपुर पुलिस से रिपोर्ट मांगी गई है। रामपुर पुलिस को अवगत कराया गया है कि शकील हल्द्वानी में जिंदा घूम रहा है।

Advertisement

img
img