अब महिलाओं की सुरक्षा को महिला चीता पुलिस का गठन

कमल नेगी, पोलखोल न्यूज़, देहरादून 3/9/2017 12:18:24 AM
img

अंर्तराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर पुलिस लाइन देहरादून में आयोजित एक कार्यक्रम में पुलिस महानिदेशक उत्तराखंड एमएगणपति द्वारा महिला चीता पुलिस को हरी झंडी दिखाकर अपने-अपने कार्यक्षेत्र को रवाना किया गया। राज्य में महिलाओं की अलग मोबाइल दल चीता का गठन कर देहरादून पुलिस द्वारा महिलाओं को भी पुरुषों के समान अवसर प्रदान करने का प्रयास किया गया। महिला चीता पुलिस का गठन वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक देहरादून स्वीटी अग्रवाल की एक अनूठी पहल है, जिसमें उनका उद्देश्य महिलाओं को पुरुषों के समान अवसर उपलब्ध कराकर अपनी कार्य कुशलता परिलक्षित करने का अवसर प्रदान करना है। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक द्वारा उक्त अवधारणा कि महिलायें पुरुषों की अपेक्षा अधिक संवेदनशील होती है जिसके कारण कई मामलों में ज्यादा बेहतर तरीके से स्थिति को नियंत्रित कर सकने की संभावना बढ़ जाती है, के आधार पर स्थापित की गयी। मोबाइल पैट्रोलिंग में महिला पुलिस कर्मियों को पुरुषों के समान भागीदारी के अवसर प्रदान किये जाने का निर्णय लिया गया। अपने इस विचार को सुसंगत रूप देने हेतु वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक द्वारा पुलिस लाइन देहरादून में महिला अधिकारियों व कर्मचारियों के साथ एक गोष्ठी आयोजित कर महिला कर्मचारियों को प्रत्येक क्षेत्र में अपनी दक्षता एवमं कार्यकुशलता परिलक्षित करने हेतु प्रेरित किया गया। इस प्रेरणा से प्रेरित होकर कई महिला अधिकारी, कार्मचारी द्वारा महिला चीता पुलिस में आने की इच्छा व्यक्त किये जाने के बाद इस विचार को व्यवहारिक रुप में परिवर्तित किया गया। पुलिस लाइन देहरादून में आयोजित कार्यक्रम के दौरान उपस्थित अधिकारियों व गणमान्य अतिथिगणों को संबोधित करते हुये वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक द्वारा महिला चीता पुलिस की रूपरेखा एवं कार्ययोजना पर प्रकाश डाला गया। उनके द्वारा बताया गया कि जनपद देहरादून में 24 महिला चीता मोबाइल में 48 महिलाओं जिसमें 10 मउनि, 38 महिला कांस्टेबल को नियुक्त किया गया। जबकि 22 महिला चीता मोबाइल नगर क्षेत्र में नियुक्त की गयी है। इसमें कोतवाली नगर में 3, कैण्ट 2, बसंत विहार 3, प्रेमनगर 1, नेहरु कालोनी 3, डालनवाला 3, रायपुर 2, पटेलनगर 2, राजपुर 2, क्लेमनटाउन 1 तथा 2 महिला चीता मोबाइल देहात क्षेत्र में नियुक्त की गयी है। महिला चीता मोबाइल में नियुक्त महिला कर्मचारियों को एक मार्च से 6 मार्च तक प्रशिक्षण दिया गया। इसमें वाहन प्रशिक्षण, आत्मरक्षा, प्राथमिक उपचार, शस्त्र प्रशिक्षण, संचार प्रशिक्षण, पुलिस मोटर वाहन अधिनियम, जनता के साथ व्यवहार आदि विषयों पर प्रशिक्षित किया गया। इसके अलावा वादों के निस्तारण तथा क्षेत्र के संबंध में जानकारी दी गयी। इस मौके पर पुलिस महानिदेशक एमए गणपति ने वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक स्वीटी अग्रवाल के इस प्रयास की जमकर प्रशंसा की। साथ ही इसे एक सकारात्मक व सराहनीय पहल बताते हुये इसके अच्छे परिणाम प्राप्त होने की आशा जतायी। महिला चीता मोबाइल में नियुक्त महिला पुलिस कर्मियों द्वारा बताया गया कि वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक की इस पहल से जुड़कर वह गौरवांवित महसूस कर रही हैं। उन्हें समाज के प्रति एक अतिरिक्त जिम्मेदारी का एहसास हो रहा है तथा वह पूर्ण कर्तव्यनिष्ठा व ईमानदारी से वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक द्वारा शुरू की गयी। इस मुहिम को सफल बनाने तथा महिलाओं के प्रति समाज में एक सकारात्मक सोच उत्पन्न करने हेतु प्रयासरत रहेगी। कार्यक्रम के दौरान उपस्थित महिला अतिथिगणांे द्वारा वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक द्वारा की गयी पहल की सराहना करते हुये इस मुहिम में अपना पूर्ण सहयोग प्रदान करने का आश्वासन दिया गया। इस अवसर पर अपर पुलिस महानिदेशक राम सिंह मीणा, अपर पुलिस महानिदेशक;प्रशासनद्ध अशोक कुमार, पुलिस महानिरीक्षक;मुख्यालयद्ध दीपम सेठ, पुलिस महानिरीक्षक;कारागारद्ध पीवीके प्रसाद, पुलिस महानिरीक्षक;पीएसीद्ध अमित सिन्हा, पुलिस महानिरीक्षक ;आॅपरेशनद्ध संजय गुंजयाल, पुलिस महानिरीक्षक (अभिसूचना) एपी अंशुमन, पुलिस उपमहानिरीक्षक गढ़वाल परिक्षेत्र पुष्पक ज्योति तथा अन्य अधिकारीगण व गणमान्य अतिथिगण उपस्थित थे।

Advertisement

img
img