चीन में महिलाओं को नहीं भाई आमिर की दंगल

कमल नेगी, पोलखोल न्यूज़ 5/18/2017 2:41:53 AM
img

चीन में शानदार प्रदर्शन कर रही आमिर खान की फिल्म दंगल को लेकर आरोप-प्रत्यारोप शुरू हो गये हैं जहां कुछ समर्थकों ने इसे लैंगिक रूढ़िता तोड़ने वाली फिल्म बताया वहीं कुछ ने इसे पूर्वाग्रह से ग्रसित बताया जो पचने योग्य नहीं है| फिल्म एक व्यक्ति द्वारा अपनी बेटियों को पहलवान बनाने के सपने पर आधारित है और दो हफ्ते पहले यहां रिलीज होने के बाद से इसने 7.2 करोड़ डॉलर की कमाई की है| एक तरफ जहां फिल्म को काफी प्रशंसा मिली है वहीं काफी संख्या में लोगों और खासकर महिला समर्थकों ने इसकी आलोचना भी की है| स्थानीय मीडिया की खबरों के मुताबिक लोकप्रिय चीनी वेबसाइट डॉबन डॉट कॉम के मुताबिक फिल्म के दर्शकों ने दस में से 9.2 की रेटिंग दी है वहीं सैकड़ों लोगों ने कम रेटिंग और खराब समीक्षा की है| एक समीक्षा में लिखा गया है, पिता के मूल्य मुझे नहीं पच रहे हैं, वह अपनी बेटियों को अपने सपने, धन और चैंपियन बनने के लिए एक खास तरह का जीवन जीने को बाध्य करता है| आप मानते हैं कि फिल्म में लैंगिक रूढ़िता को तोड़ा गया है लेकिन यह पूरी तरह पूर्वाग्रह से ग्रसित है| एक अन्य समीक्षा में कहा गया है, फिल्म से पितृसत्तात्मक बू आती है और पुरूषवादी अहंकार झलकता है| बेटियों को स्वतंत्रता नहीं है और विश्व चैंपियन बनने के लिए उनका पिता उग्र रूप से उनका पालन..पोषण करता है|

Advertisement

img
img