तीन तलाक अमानवीय प्रथा: शबाना आजमी

पोलखोल न्यूज़ 5/22/2017 12:05:48 AM
img

फिल्म अभिनेत्री और सामाजिक कार्यकर्ता शबाना आजमी ने तीन तलाक की कड़ी आलोचना करते हुए कहा है कि ये प्रथा अमानवीय है। उन्होंने कहा कि तीन तलाक मुस्लिम महिलाओं के अधिकारों का उल्लंघन करता है। एक कार्यक्रम के दौरान शबाना आजमी ने कहा कि ये सरकार की जिम्मेदारी है कि वह मुस्लिम महिलाओं के अधिकारों की रक्षा करे और इसे खत्म करने के बारे में सरकार की दो राय नहीं होनी चाहिए। ये प्रथा महिलाओं को समानता के अधिकार से वंचित करती है। पवित्र कुरान में भी तीन तलाक की इजाजत नहीं है। उन्होंने आगे कहा कि जो महिलाएं सशक्त हैं उन्हें बाकी महिलाओं की मदद करनी चाहिए।
             इस वक्त देश भर में तीन तलार पर बहस चल रही है। मुख्य न्यायाधीश की अध्यक्षता वाली पांच जजों की संविधान पीठ के सामने सुप्रीम कोर्ट में इसकी सुनवाई हुई है जिसपर फैसला सुरक्षित रखा गया है।

Advertisement

img
img