सरफराज अहमद ने छेड़ी शब्दों की जंग, कहा आसानी से हराएंगे इंडिया को

पोलखोल न्यूज़ 5/26/2017 11:32:18 PM
img

भारत और पाकिस्तान के बीच आइसीसी चैंपियंस ट्रॉफी का मुकाबला चार जून को होगा। इससे पहले दोनों टीमों के बीच जुबानी जंग शुरू हो गई है। पहले भारतीय कप्तान विराट कोहली ने कहा है कि वह पाकिस्तान की टीम से होने वाले मुकाबले को खास तवज्जो नहीं दे रहे हैं और इसे आम मैच की तरह ही लेंगे। 

आपको बता दें कि दोनों टीमों के बीच होने वाले मैच कोई आम मैच नहीं होते हैं। यह बात क्रिकेट प्रेमियों से लेकर क्रिकेटर तक जानते हैं। कोहली की इस टिप्पणी के बाद पाकिस्तानी कप्तान सरफराज अहमद ने भी शब्दों की जंग छेड़ दी है। उन्होंने कहा है कि जैसे पाकिस्तान की टीम भारत को इस टूर्नामेंट में पहले भी हराते आई है, वैसी ही अब भी हराएगी। 

अहमद को भरोसा है कि उनकी टीम चैंपियंस ट्रॉफी में 4 जून को होने वाले मुकाबले में चिर-प्रतिद्वन्द्वी भारत के खिलाफ अपना शानदार रिकॉर्ड कायम रखेगी। आइसीसी विश्व कप और T20 को छोड़ दें तो पाकिस्तान का इस टूर्नामेंट में भारत के खिलाफ रिकॉर्ड काफी अच्छा है। पाकिस्तान ने भारत से 2 मुकाबले जीते हैं और 1 में उसे हार का मुंह देखना पड़ा है। 

अहमद ने टूर्नामेंट से पहले प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, हमारा चैंपियंस ट्रॉफी में भारत के खिलाफ रिकॉर्ड काफी बेहतर है, हालांकि दूसरे टूर्नामेंट में ऐसा नहीं है। हम उनके खिलाफ इस रिकॉर्ड को कायम रखना चाहेंगे और यह रोमांचित करने वाला है। दोनों टीमों के खेल प्रेमियों के लिए यह मैच भले ही काफी विशेष हो, लेकिन सरफराज ने कहा कि उनकी टीम एक बार में सिर्फ एक ही मैच पर ध्यान लगाएगी। 

पाक कप्तान ने कहा, हमारे पास गंवाने के लिए कुछ नहीं है, हम सिर्फ अपना स्वाभाविक खेल खेलना चाहते हैं। हमने हाल में वेस्टइंडीज में एक बहुत ही अच्छी सीरीज खेली है, जिसमें खिलाड़ियों ने काफी बेहतर प्रदर्शन किया है। सरफराज ने आगे कहा, हमें इस टूर्नामेंट में बढ़िया खेल दिखाने की उम्मीद है और हम इसे जीतना चाहते हैं। यह हमारे लिए काफी अच्छा समय है और हमने एजबेस्टन के अभ्यास सत्र में काफी अभ्यास किया है और अब हम इस टूर्नामेंट में उतरने के लिए मानसिक और शारीरिक रूप से तैयार हैं।

सरफराज ने यह भी कहा कि उनकी टीम ने वेस्टइंडीज दौरे में की गई गलतियों को सुधार लिया है। उन्होंने कहा, वेस्टइंडीज सीरीज के बाद हमने अपनी फील्डिंग में काफी सुधार किया है। हमने सीरीज में एक या दो कैच छोड़े थे, लेकिन हमने अब इसमें काफी सुधार किया है जिससे हम काफी खुश हैं। उन्होंने कहा, हम कोई चौंकाने वाला नतीजा हासिल नहीं करना चाहते, हम यहां अच्छा क्रिकेट खेलने आए हैं, जिसकी शुरुआत भारत के खिलाफ मैच से होगी। हम एक मैच पर ही ध्यान लगाएंगे और मुझे उम्मीद है कि अभ्यास मैचों से पाकिस्तानी टीम के आत्मविश्वास में बढ़ोतरी होगी।

सरफराज ने बांग्लादेश की भी प्रशंसा की जिसके खिलाफ उन्हें अभ्यास मैच भी खेलना है। छठी रैंकिंग की बांग्लादेशी टीम 2006 के बाद अपनी पहली चैंपियंस ट्रॉफी खेली है और रैंकिंग में अभी पाकिस्तान से ऊपर है। सरफराज ने स्वीकार किया कि पिछले 18 महीने में वह बांग्लादेश की टीम से काफी प्रभावित हुए हैं।

देखना होगा कि शब्दों की जंग पूरी के बाद जब पाकिस्तान की टीम भारत के सामने होगी तो दोनों टीमों में से कौन बाजी मारता है। क्रिकेट प्रेमियों को दोनों टीमों के बीच होने वाले इस मैच का बेसब्री से इंतजार है। 

Advertisement

img
img