2018 में होने वाला टूर्नामेंट रद्द

पोलखोल न्यूज़, नई दिल्ली 7/26/2017 3:12:52 AM
img

हॉकी इंडिया लीग (एचआईएल) का भविष्य अनिश्चित नजर आ रहा है क्योंकि सिर्फ पांच सत्र के बाद ही आयोजकों ने इस लुभावनी हॉकी लीग के अगले टूर्नामेंट को 2019 तक स्थगित कर दिया है| हॉकी इंडिया ने दावा किया है कि लीग के पांच सत्रों की समीक्षा के लिए अगले साल एचआईएल का आयोजन नहीं करने का फैसला किया गया है| लेकिन सूत्रों के अनुसार पैसे की तंगी से जूझ रही कुछ फ्रेंचाइजी के प्रतियोगिता से हटने का फैसला करने के बाद यह निर्णय लिया गया| हॉकी इंडिया की वार्षिक आम बैठक के दौरान मौजूद रहे सूत्रों ने बताया कि कम से कम तीन फ्रेंचाइजी आयोजकों से नाखुश थीं और वित्तीय कारणों से आगे लीग का हिस्सा बने रहने पर अक्षमता जताई| उन्होंने कहा कि हमें नहीं पता कि भविष्य में क्या होगा| लेकिन कुछ फ्रेंचाइजी आयोजकों से नाखुश थी जिन्होंने उन्हें मुश्किल से निकालने का आश्वासन दिया| दो फ्रेंचाइजी को गंभीर वित्तीय समस्या है और एक अन्य फ्रेंचाइजी ने भी राहत नहीं मिलने पर प्रतिनिधित्व जारी नहीं रखने की धमकी दी है| हॉकी इंडिया ने कहा है कि लीग 2019 में वापसी करेगी लेकिन भविष्य अनिश्चित नजर आता है| हॉकी इंडिया ने हालांकि दावा किया कि टूर्नामेंट नये परिदृश्य के साथ 2019 में वापसी करेगा| आयोजकों की ओर से जारी बयान के अनुसार हॉकी इंडिया और अन्य हितधारकों के प्रतिनिधियों वाली टूर्नामेंट की संचालन समिति ने सर्वसम्मति से फैसला किया है कि अगले टूर्नामेंट का आयोजन जनवरी और फरवरी 2018 की जगह 2019 में किया जाएगा| एचआईएल चेयरमैन और हॉकी इंडिया के महासचिव मोहम्मद मुश्ताक अहमद ने कहा, पांच साल तक हॉकी इंडिया लीग के सफल आयोजन के बाद हमने महसूस किया कि अब लीग की समीक्षा, इसकी सफलता के आकलन का समय है और नये नजरिये के साथ वापसी जिससे खेल के विकास में मदद मिलेगी| अहमद ने हालांकि पुष्टि की कि इस अस्थाई तौर पर रोका गया है और हॉकी इंडिया लीग 2019 में वापसी करेगी| उन्होंने कहा कि हॉकी इंडिया लीग 2018 और एक बड़े अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंट की तारीखों में टकराव के कारण अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ियों के प्रतिनिधित्व में रुकावट की संभावना है, यह फैसला किया गया कि सर्वश्रेष्ठ हल यह है कि लीग के छठे सत्र के आयोजन को स्थगित किया जाए| खिलाड़ियों ने इस बीच टूर्नामेंट का आयोजन नहीं होने पर निराशा जताई है और साथ ही उम्मीद जताई कि 2019 में लीग मजबूत बनकर वापसी करेगी| उत्तर प्रदेश विजाड्र्स के कप्तान और अनुभवी ड्रैग फ्लिकर वीआर रघुनाथ ने इसे भारतीय हॉकी को बड़ा झटका करार दिया| 

Advertisement

img
img