डॉक्टरों ने एफआईआर के विरोध में संघ के जिलाध्यक्ष को सौंपे इस्तीफे

पोलखोल न्यूज़, लखनऊ 9/7/2017 2:55:20 AM
img

प्रांतीय चिकित्सा सेवा संघ की हुई बैठक के बाद सरकारी डॉक्टरों ने सीएमओ और सीएमएस के तबादले समेत डॉक्टरों के खिलाफ एफआईआर के विरोध में संघ के जिलाध्यक्ष को इस्तीफे सौंप दिए। डॉक्टरों ने आज से काली-पट्टी बांध कर काम करने का भी निर्णय लिया। लोहिया अस्पताल में ऑक्सीजन व समुचित दवाएं न दिए जाने से 49 शिशुओं की मौत के मामले मेंं तत्कालीन डीएम रविंद्र कुमार ने रविवार को सीएमओ, सीएमएस और अन्य चिकित्सकों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करा दी थी। डीएम की रिपोर्ट के बाद शासन की ओर से सीएमओ और सीएमएस का तबादला कर दिया गया था। हालांकि मंगलवार को निरीक्षण के बाद स्वास्थ्य निदेशक ने डॉक्टरों को क्लीन चिट दे दी थी। इसके बावजूद डॉक्टरों में रोष है। बुधवार को बैठक के दौरान डॉक्टरों ने एफआइआर और सीएमओ,सीएमएस के तबादले वापस लिए जाने की मांग की। जिलाध्यक्ष को इस बात के लिए अधिकृत किया गया कि कोई सम्मानजनक हल न निकलने पर वे डॉक्टरों का त्यागपत्र शासन को भेज दें। जिलाध्यक्ष डा. वीके दुबे ने बताया कि स्वास्थ्य निदेशक ने एफआइआर निरस्त होने की विधिक प्रक्रिया पूर्ण होने के लिए दो सप्ताह का समय दिए जाने को कहा था। इसके चलते 22 सितंबर तक सभी डॉक्टर काली पट्टी बांध कर काम करेंगे। 

Advertisement

img
img