समान विचार के लोगों को साथ आना चाहिए: मुलायम सिंह

पोलखोल न्यूज़, लखनऊ 9/25/2017 1:43:46 AM
img

समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव ने आज प्रेस कॉन्फ्रेंस की| उन्होंने राज्य और केंद्र सरकार की जमकर आलोचना की. लम्बे समय से कयास लगाए जा रहे थे कि मुलायम सिंह यादव नई पार्टी का ऐलान कर सकते हैं, प्रेस कॉन्फ्रेंस में मुलायम सिंह ने इस बात से इनकार कर दिया है| हालांकि उन्होंने कहा कि समान विचार के लोगों को साथ आना चाहिए| प्रेस कॉन्फ्रेंस में यादव ने कहा कि यूपी में कानून राज समाप्त हो गया है| इसमें समाजवादी पार्टी से इतर नई पार्टी बनाने की भी अटकलें बाजार में दौड़ रही थीं| लेकिन प्रेस कांफ्रेंस में मुलायम ने साफ कर दिया कि वह कोई नई पार्टी बनाने नहीं जा रहे हैं वह समाजवादी पार्टी के ही साथ हैं| हालांकि इस दौरान अखिलेश यादव को लेकर मुलायम का दर्द जरूर छलक पड़ा| उन्होंने कहा कि अखिलेश मेरे बेटे हैं और उन्हें उनका आर्शीवाद है लेकिन जो अपनी बात पर टिक नहीं सकता वह जीवन में कभी कामयाब नहीं हो सकता| इसके बाद मुलायम की प्रेस कांफ्रेंस जैसे ही समाप्त हुई| अखिलेश यादव ने फौरन एक ट्वीट किया| जिसमें उन्होंने नेताजी जिंदाबाद, समाजवादी पार्टी जिंदाबाद| मुलायम सिंह ने कहा कि किसानों से कर्जमाफी के नाम पर छलावा हुआ है, बीएचयू में लड़कियां सुरक्षित नहीं हैं| उन्होंने केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि केंद्र ने तीन साल में अपना कोई वादा पूरा नहीं किया है| मुलायम सिंह ने मांग की है कि पेट्रोल पर भी जीएसटी लगना चाहिए| उम्मीद जताई जा रही थी कि प्रेस कांफ्रेंस में शिवपाल सिंह यादव भी उनके साथ मौजूद रहेंगे लेकिन इस दौरान वह नजर नहीं आए| दरअसल करीब साल भर बीतने के बाद भी समाजवादी पार्टी और परिवार में मतभेद थमने का नाम नहीं ले रही है| एक तरफ मुलायम सिंह यादव और शिवपाल सिंह यादव हैं, वहीं दूसरी तरफ अखिलेश यादव और राम गोपाल यादव हैं| गौरतलब है कि प्रदेश के पिछले विधानसभा चुनाव के वक्त जब सपा में अंतर्कलह चरम पर थी और मुलायम ने खुद को पार्टी के मामलों से लगभग अलग कर लिया था, उस वक्त भी उनके अलग पार्टी बनाकर चुनाव लड़ने की अटकलें लगाई जा रही थीं| उस समय भी लोकदल अध्यक्ष सुनील सिंह ने उनसे अपनी पार्टी के निशान पर चुनाव लड़ने की पेशकश की थी| 

Advertisement

img
img