केंद्रीय मंत्री ने राम मंदिर निर्माण को लेकर सरकार का रुख किया साफ

पोलखोल न्यूज़, लखनऊ 10/11/2017 11:32:04 PM
img

फैजाबाद पहुंचे केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री शिव प्रताप शुक्ला ने राम मंदिर निर्माण को लेकर सरकार का रुख साफ किया| शिव प्रताप शुक्ल ने कहा कि सरकार कोर्ट के फैसले की प्रतीक्षा कर रही है| राम मंदिर का निर्माण जनता करेगी और सरकार इसमें मदद करेगी| डीजल और पेट्रोल को जीएसटी के दायरे में लाने को लेकर पूछे गए सवाल के जवाब में उन्होंने स्पष्ट किया कि अभी इसकी कोई योजना नहीं है| उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार जीएसटी को लेकर संवेदनशील है| सरकार हर वो उपाय कर रही है जिससे देश के उद्यमी और व्यवसायी इसको सरलतम ढंग से उपयोग कर सकें| केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री शिव प्रताप शुक्ला ने फैजाबाद में पत्रकारों से कहा कि चाहे जीएसटी प्रणाली हो या चाहे उसके लिए बनाया गया पोर्टल हो, जैसे अभी हाल ही में तमाम वस्तुओं के टैक्स को घटाया गया है, डेढ़ करोड़ तक की सीमा वाले व्यापारियों को तिमाही रिटर्न भरने की छूट दी गई है, उसी प्रकार जरूरत पड़ने पर जीएसटी में जरूरी सुधार किए जाते रहेंगे| उन्होंने कहा कि कुछ ही दिनों में जीएसटी को लेकर सब-कुछ ठीक हो जाएगा| उन्होंने कहा बिहार के उप-मुख्य मंत्री सुशील मोदी की देख-रेख में एक उप समिति बनाई गई है| जिसमें कई प्रदेशों के वित्त मंत्री शामिल हैं| ये समिति अध्ययन करके दो-चार माह में दिक्कतें दूर कर देगी और जब लगेगा प्रॉब्लम दूर हो गई है तो जीएसटी एप लॉन्च कर दिया जाएगा| एक प्रश्न के उत्तर में उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रधानमंत्री बनने से पहले ही करोड़ों रोजगार देने की बात कही थी, जिस वादे को पूरा करने के लिए केवल एक योजना प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के अंतर्गत बैकों के माध्यम से ऋण दिलाकर 3 करोड़ 97 लाख लोगों को रोजगार उपलब्ध कराया गया है| शुक्ला ने कहा कि हम देश के 50 स्थानों पर प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के शिविर लगाकर ऋण वितरित करेंगें और अन्य दल के लोग बात तो बहुत करते हैं पर काम करके केवल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दिखा रहे हैं| जिन्होंने स्टैंड अप इंडिया योजना से अनुसूचित जाति को आगे बढ़ाने का काम किया है| सरकार नौकर नहीं नौकरी देने वालों की फ़ौज खड़ी कर रही है| 

Advertisement

img
img