प्रेमिका के लिए मर्डर का मास्टरमाइंड बना रिटायर्ड दरोगा का बेटा

पोलखोल न्यूज़, इलाहाबाद 10/23/2017 11:43:42 PM
img

इलाहाबाद पुलिस ने दो हफ्ते पहले शोध छात्र उपेन्द्र यादव की गोली मारकर हत्या किए जाने की घटना का खुलासा कर दिया है| उपेन्द्र यादव की हत्या करने की साजिश उसकी प्रेमिका के पुराने प्रेमी ने रची थी| पुलिस ने उपेन्द्र की हत्या के लिए सुपारी देने वाले रिटायर्ड दरोगा के बेटे आनंद को गिरफ्तार कर पूरी घटना का खुलासा कर दिया| पुलिस के मुताबिक, रिटायर्ड दरोगा के बेटे ने अपनी प्रेमिका को दोबारा पाने के लिए उसके नए प्रेमी को मौत के घाट उतारने की साजिश रची थी| इसके लिए उसने बांदा के शातिर शूटर रामबाबू को एक लाख रुपये में सुपारी दी थी| पचास हजार रुपये एडवांस लेने के बाद शूटर रामबाबू ने उपेन्द्र यादव को उसके किराये के घर के गेट पर आठ अक्टूबर की देर रात गोली मार दी थी| सिर में गोली लगने के कारण घायल उपेन्द्र ने इलाज के दौरान लखनऊ के केजीएमयू में दम तोड़ दिया था| गोली मारने की ये घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई थी| लेकिन रात का वक्त होने के कारण पुलिस को सीसीटीवी से कोई खास सुराग नहीं मिल सका था| कॉल डिटेल के सहारे पुलिस ने इस हत्याकांड का खुलासा किया है| वहीं इस घटना को अंजाम देने वाले शूटर रामबाबू को इलाहाबाद पुलिस ने रविवार को मुठभेड़ के दौरान गोली लगने के बाद घायल होने पर गिरफ्तार कर लिया है| एसएसपी आनंद कुलकर्णी के मुताबिक, शोध छात्र उपेन्द्र यादव की हत्या की त्रिकोणीय प्रेम कहानी के चलते की गई थी| पुलिस ने इस घटना के साजिशकर्ता आनंद के साथ ही शूटर रामबाबू के एक गुर्गे को गिरफ्तार कर लिया है| इनके पास से पुलिस को तमंचा और कारतूस भी बरामद हुआ है| इस मर्डर का मास्टरमाइंड आनंद हाल ही में रिटायर हुए एक दरोगा का बेटा है| उसी ने अपना पुराना प्यार हासिल करने के लिए हत्या की वारदात की साजिश रच डाली| 

Advertisement

img
img