अखिलेश ने प्रदेश और केंद्र सरकार पर साधा निशाना

पोलखोल न्यूज़, लखनऊ 10/27/2017 12:55:51 AM
img

समाजवादी पार्टी के कुनबा बढ़ाओ अभियान में बसपा, रालोद व कांग्रेस के आधा दर्जन से अधिक वरिष्ठ नेताओं समेत सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के समक्ष पार्टी की सदस्यता ग्रहण की। सपा की ताकत बढऩे का दावा करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश ने प्रदेश और केंद्र सरकार पर निशाना साधा। पार्टी मुख्यालय में सदस्यता ग्रहण प्रोग्राम के बाद पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए अखिलेश पूरे मूड में दिखे। मुख्यमंत्री योगी की आगरा यात्रा पर भाजपा को घेरा। कहा कि समय बदलता रहता है, जो लोग ताजमहल को संस्कृति का हिस्सा नहीं मान रहे थे, वो भगवान राम की वजह से वहां सफाई कर रहे हैं। हम भगवान राम को धन्यवाद देते हैं, ये उनकी वजह से हुआ है। कूड़ा सफाई सबसे अच्छा भाजपा करती है और हम कूड़े को ठिकाने लगाना जानते है। अब समय आ रहा है। भाजपा नेताओं के उग्र बयानों से पर्यटन चौपट होने की आशंका जताते हुए उन्होंने कहा कि केंद्र से दबाव आया तब मुख्यमंत्री अपने काम को बताने आगरा गए परंतु वहां सपा ने ही काम किया है। भाजपा ने तो रबर डैम, मुगल गार्डन व आउटर रोड जैसे काम भी रोक दिए। अखिलेश ने अयोध्या व मथुरा में भी कार्य रोक देने का आरोप लगाया। अखिलेश ने चुनौती देते हुए कहा कि हिम्मत है तो ताज को सेवन वंडर्स (सात आश्चर्य) सूची से हटा दें। ताजमहल को शिवमंदिर बताकर वहां पर पूजा की जा रही है। सुरक्षा में लगे जवान क्या कर रहे थे? फतेहपुर में प्रेमी युगल पर हमले की घटना का हवाला देते हुए कहा कि सरकार की रोमियो पुलिस का पता नहीं कहां है? सपा मुखिया ने नोटबंदी व जीएसटी मुद्दे पर भाजपा को कठघरे में खड़ा करते हुए कहा कि सबसे ज्यादा नुकसान व्यापारियों का हुआ है। हम व्यापारियों को जोडऩे का काम कर रहे हैं। नोटबंदी और जीएसटी से भ्रष्टाचार खत्म करने के दावे किए गए थे परंतु व्यापारियों की कमर तोड़ दी। गुजरात में चुनाव लडऩे के सवाल कहा कि कांग्रेस से वार्ता जारी है। वहां के हालात बदल रहे है, हम गुजरात जाए या न जाए परंतु वहां पर भाजपा हार रही है। नगर निकाय चुनाव मजबूती से लडऩे का दावा करते हुए कहा कि अपने विकास कार्यो को हम जनता तक पहुंचाने में कामयाब रहे तो सबसे अधिक मेयर सपा के होंगे। मधुसूदन शर्मा-आगरा पूर्व विधायक, मनीष जायसवाल-बस्ती पूर्व एमएलसी, राकेश शर्मा सभी बसपा, मिथलेश पाल- पूर्व विधायक व हरेंद्र शर्मा-मुजफ्फरनगर, ताराचंद शास्त्री -पूर्व दर्जा प्राप्त मंत्री मेरठ, सभी रालोद व कांग्रेस की वंदना राकेश शुक्ला व राजीव शर्मा। भाजपा सांसद प्रियंका रावत द्वारा बाराबंकी के जिलाधिकारी पर लगाए आरोपों के बचाव में सपा मुखिया खुलकर बोले। उन्होंने कहा कि बाराबंकी के डीएम तो ईमानदार है। भाजपा सांसद को पता नहीं क्या हुआ? जो आरोप लगाए है। अखिलेश यादव यहीं नहीं ठहरे उन्होंने प्रशासनिक अधिकारियों के साथ पुलिस को भी सराहा। उनका कहना था कि सभी अच्छा काम करते हैं, डायल- 100 भी बेहतर काम करती रही है। सपा अध्यक्ष ने नोटबंदी घोषणा की सालगिरह आठ नवंबर को काला दिवस मनाने की बात भी कही। उन्होंने कहा कि नोटबंदी और जीएसटी का नुकसान गरीब व कमजोर वर्ग को अधिक हुआ है। 

Advertisement

img
img