पीएम मोदी : 48वां WEF में हिस्सा लेने के लिए स्विटजरलैंड में,दावोस में भारत का जलवा

पोलखोल न्यूज़, नई दिल्ली 1/23/2018 3:51:40 AM
img

स्विट्जरलैंड के दावोस में आ‍योजित 48वां वर्ल्‍ड इकोनॉमिक फोरम वैश्विक स्‍तर पर भारत की मजबूत छवि की मिसाल पेश करने वाला है। इस सालाना सम्‍मेलन के लिए दुनियाभर के कई ताकतवर नेताओं का जमावड़ा जुटा है। मगर इसके सत्र की शुरुआत भारतीय पीएम नरेंद्र मोदी के भाषण से होगा। इस बार यह सम्‍मेलन कई मामलों में भारत के लिए भी बेहद खास होने वाला है। पीएम मोदी ने दावोस से एक बार फिर पूरी दुनिया को संदेश देते हुए कहा है कि भारत का मतलब बिजनेस है और सभी के लिए इसके दरवाजे खुले हुए हैं। वर्ल्‍ड इकोनॉमिक फोरम के चेयरमैन क्‍लॉस श्‍वाब सत्र की मेजबानी करेंगे और पीएम मोदी दुनियाभर के सीईओ के सामने मजबूती से न्‍यू इंडिया को पेश करेंगे। फिलहाल स्विट्जरलैंड के राष्ट्रपति ऐलेन बर्सिट और प्रफेसर क्लॉस श्वाब के साथ पीएम मोदी की ताजा तस्‍वीर सामने आई है।पीएम मोदी मंगलवार शाम दावोस पहुंचे और रात्रि भोज पर दुनियाभर के कारोबारियों और मुख्‍य कार्यकारी अधिकारियों को भारत में कारोबार के सुनहरे अवसराें से अवगत कराया।पीएम मोदी दावोस की बर्फीली वादियों में मौसम का लुत्‍फ उठाते भी नजर आए। उन्‍होंने दावोस से अपनी एक तस्वीर सोशल मीडीया पर शेयर की, जिसमें वह बर्फबारी का आनंद उठाते हुए दिखे। पीएम मोदी ने तस्‍वीर के साथ लिखा, वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम में हिस्सा लेने के लिए स्विटजरलैंड में हूं, जहां मैं विश्व के नेताओं, कारोबार के क्षेत्र के विशेषज्ञों से मुलाकात करूंगा। मैं भारत में विभिन्न आर्थिक संभावनाओं के बारे में चर्चा करूंगा। दावोस पर भी भारतीय रंग चढ़ गया है। इस समय शहर की ऊंची-ऊंची इमारतों के ऊपर और चलती-फिरती बस पर हर तरफ सिर्फ भारत और भारतीय कंपनियों के विज्ञापन ही दिख रहे हैं। यहां चाय और पकौड़े की मांग सबसे ज्यादा बनी हुई है, वहीं बड़ापाव और डोसा भी लोगों के बीच विशेष पसंद किया जा रहा है।गौरतलब है कि मोदी 20 साल बाद भारत के पीएम के रूप में दावोस सम्‍मेलन में हिस्‍सा लेने पहुंचे हैं। इससे पहले 1997 में एच डी देवगौड़ा शामिल हुए थे। 

Advertisement

img
img