यूपी ; रेलवे ने यात्रियों को निरस्त ट्रेन में दिया रिजर्वेशन

पोलखोल न्यूज़, लखनऊ 2/13/2018 1:43:28 AM
img

रेलवे ने जिस ट्रेन को सुलतानपुर रेलखंड पर नॉन इंटरलाकिंग के चलते निरस्त कर दिया है, उस ट्रेन के यात्रियों को एक लापरवाही के चलते हजारों रुपये का चूना लग गया। यह ट्रेन सिस्टम पर निरस्त नहीं की गई। इतना ही नहीं रेलवे की पूछताछ सेवा ने भी निरस्त ट्रेन को नियमित रूप से चलने की जानकारी दी। अब रेलवे इसे विभागीय चूक बताकर पल्ला झाड़ रहा है। दरअसल रेलवे ने सुलतानपुर रेलखंड के अकबरगंज-सिंदूरवा-निहालगढ़-अढ़नपुर स्टेशनों के बीच रेल दोहरीकरण के लिए नॉन इंटरलाकिंग करने का काम शुरू किया है। इसके चलते इस रूट की अधिकांश ट्रेनें निरस्त कर दी गई हैं, जबकि कई ट्रेनों के रास्ते बदल दिए गए हैं। रेलवे ने ट्रेनों के निरस्तीकरण के नोटिफिकेशन में ट्रेन 13240 कोटा-पटना एक्सप्रेस को कोटा स्टेशन से 12, 13, 14, 17 और 20 फरवरी को निरस्त किया है। इस कारण यह ट्रेन 13, 14, 15, 18 और 21 फरवरी को लखनऊ नहीं आएगी। रेलवे ने सेंटर फॉर रेलवे इंफारमेशन सिस्टम (क्रिस) को इसकी सूचना तक नहीं दी। जिस कारण क्रिस ने सिस्टम में ट्रेन को निरस्त नहीं किया। इधर सूचना मिलने पर लखनऊ के दर्जनों यात्री अपने टिकट निरस्त करवाने आरक्षण केंद्रों पर पहुंचे। यात्रियों ने टिकट निरस्त करवाए तो उनको पूरा रिफंड नहीं मिला। बोगियों की क्लास के अनुसार उसका निरस्तीकरण शुल्क काट लिया गया। यात्रियों ने जब पूछा कि पूरा रिफंड क्यों नहीं दिया गया है तो कर्मचारियों ने बताया कि ट्रेन को निरस्त नहीं किया गया है। यात्रियों ने रेलवे की पूछताछ सेवा पर भी फोन किया, जिस पर ट्रेन को नियमित रूप से चलाने की जानकारी दी गई। जिस ट्रेन का रिजर्वेशन रेलवे सोमवार शाम तक कर रहा था। वह देर शाम अचानक निरस्त बताने लगी। मामला उत्तर रेलवे मुख्यालय पहुंचने के बाद रेलवे जागा और फिर क्रिस को सिस्टम पर ट्रेन को निरस्त कर दिया। उत्तर रेलवे मुख्यालय के जनसंपर्क अधिकारी विनोद कुमार ने बताया कि कम्युनिकेशन की कमी के कारण इस ट्रेन को निरस्त करने के बावजूद इसकी फीडिंग सिस्टम में नहीं की गई थी। जिन यात्रियों के निरस्तीकरण शुल्क कट गए हैं, उसको वापस करने के निर्देश दिए जाएंगे।

Advertisement

img
img