अवनि बनी भारतीय पहली महिला पायलट फाइटर प्लेन उड़ाने वाली

पोलखोल न्यूज़ 2/22/2018 1:13:02 AM
img

आधुनिक युग में महिलाएं इतनी सशक्त हो गई हैं कि आदमी से कंधे से कंधा मिलाकर चल रही है. महिलाएं डॉक्टर भी हैं तो शिक्षिका भी, इंजीनियर भी है तो वकील भी,पुलिस में है तो सेना में भी. लेकिन अवनि चतुर्वेदी की इस उपलब्धी ने उंहे पूरे देश में प्रसिद्ध कर दिया है. जी हैं अवनि जामनगर में देश के फाइटर प्लेन को उड़ाने वाली पहली महिला फाइटर बन गई है. अवनि इंडियन एयरफोर्स की फ्लाइंग ऑफिसर यानि देश की पहली महिला फाइटर पायलट बन गई हैं। जानकारी के अनुसार, अवनि ने गुजरात के जामनगर में 19 फरवरी को अपनी पहली ट्रेनिंग में अकेले मिग-21 बाइसन फाइटर प्लेन उड़ाकर इतिहास रच दिया है। उड़ान के दौरान अनुभवी पायलट और प्रशिक्षक एयर ट्रैफिक कंट्रोल और रन-वे पर निगरानी के लिए मौजूद रहे। अवनि चतुर्वेदी मध्य-प्रदेश के रीवा की रहने वाली हैं। अवनी का यह प्रयास इसलिए भी महत्वपूर्ण है क्योंकि बाइसन की तकनीकि लैंडिंग और टेक-ऑफ में काफी स्पीड रखती हैं।बता दें कि महिला फाइटर पायलट बनने के लिए 2016 में पहली बार तीन महिला पायलटों अवनि चतुर्वेदी, मोहना सिंह और भावना को वायु सेना में कमिशन किया गया था। एयर कमोडोर प्रशांत दीक्षित ने कहा, यह भारतीय वायुसेना और पूरे देश के लिए एक विशेष उपलब्धि है। दुनिया के चुनिंदा देशों जैसे ब्रिटेन, अमेरिका, इजरायल और पाकिस्तान में ही महिलाएं फाइटर पायलट बन सकी हैं।


Advertisement

img
img