यूपी ; नरेश अग्रवाल ने समाजवादी पार्टी छोड़कर, थामेंगे भाजपा का दामन

पोलखोल न्यूज़, लखनऊ 3/12/2018 5:38:29 AM
img

उत्तर प्रदेश की राजनीति में जोड़-तोड़ में माहिर नरेश अग्रवाल अब भारतीय जनता पार्टी का दामन थामेंगे। कांग्रेस से राजनीतिक पारी शुरू करने वाले नरेश अग्रवाल ने अपनी पार्टी लोकतांत्रिक कांग्रेस बनाने के बाद फिर बसपा का दामन थामा। इसके बाद वह अपने पूरे कुनबे के साथ समाजवादी पार्टी में शामिल हो गए थे। समाजवादी पार्टी ने उनको राज्यसभा सदस्य बनाया था। उनका कार्यकाल इसी महीने समाप्त हो रहा है। सत्ता के करीब रहने के माहिर नरेश अग्रवाल के ऊपर जब समाजवादी पार्टी ने जया बच्चन को वरीयता देकर राज्यसभा भेजने का टिकट दिया, तभी से नरेश अग्रवाल का समाजवादी पार्टी से मोह भंग हो गया। यूपी के हरदोई के रहने वाले अग्रवाल 1980 में कांग्रेस के टिकट पर विधायक बने थे। इसके बाद से वह कई अन्य दलों से होते हुए समाजवादी पार्टी पहुंचे थे। हरदोई विधानसभा सीट से सात बार विधायक रहे नरेश अग्रवाल ने आज उत्तर प्रदेश की राजनीति में बड़ा उथल-पुथल मचा दिया है। राज्यसभा सांसद आज शाम को करीब चार बजे नई दिल्ली में भारतीय जनता पार्टी का दामन थामेंगे। नरेश अग्रवाल का राज्यसभा कार्यकाल 23 मार्च को खत्म हो रहा है। सपा ने उन्हें दुबारा राज्यसभा न भेजते हुए जया बच्चन को उम्मीदवार बनाया है। इसी से नाराज नरेश अग्रवाल साइकिल की सवारी छोड़कर भाजपा के साथ जा रहे हैं। नरेश अग्रवाल दिल्ली में भाजपा के कार्यालय में भाजपा की सदस्यता ग्रहण करेंगे। नरेश अग्रवाल कांग्रेस और बसपा में भी रह चुके हैं। हरदोई विधानसभा सीट से वे सात बार विधायक भी रहे हैं। 1989 में वे कांग्रेस से अलग हुए।जिसके बाद उन्होंने 1997 में अखिल भारतीय लोकतांत्रिक पार्टी गठित की। इसके बाद उन्होंने बसपा ज्वाइन की। मायावती पर पैसा लेने का आरोप लगाते हुए पार्टी छोड़ दी। इसके बाद लंबे समय तक सपा में रहे। उन्हें समाजवादी पार्टी में बड़ा वैश्य चेहरा माना जाता था। माना जा रहा है कि नरेश अग्रवाल 2019 में हरदोई से भाजपा के लोकसभा प्रत्याशी भी हो सकते हैं। राज्यसभा सांसद नरेश अग्रवाल के भाजपा में शामिल होने की खबर से हरदोई से काफी संख्या में उनके समर्थक दिल्ली पहुंच चुके हैं। हरदोई की राजनीति में बड़ा बदलाव आएगा। पूर्व मंत्री अशोक बाजपेई को भाजपा राज्य सभा में भेज रही है। 

Advertisement

img
img