बैकफुट पर योगी सरकार, बिजली सेवाओं के निजीकरण का फैसला लिया वापस

पोलखोल न्यूज़, लखनऊ 4/5/2018 10:38:39 PM
img

यूपी की योगी सरकार ने लखनऊ समेत सात शहरों में एकीकृत बिजली सेवाओं के निजीकरण की योजना को वापस ले लिया है। ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा की अध्यक्षता वाली बैठक में यह फैसला लिए गया है।

15 दिनों से आंदोलित थे बिजली कर्मचारी 

बता दे कि राज्य सरकार ने इस योजना को यूपी पावर कॉरपोरेशन लिमिटेड (यूपीपीसीएल) के कर्मचारियों द्वारा सरकार के खिलाफ उत्तेजित होने के बाद वापस लिया है। ज्ञात हो कि बिजली कर्मचारियों सरकार की इस योजना के विरोध में पिछले 15 दिनों से आंदोलन कर रहे थे। यूपीपीसीएल के कर्मचारियों की सरकार से मांग थी कि बिजली क्षेत्र में निजीकरण करने संबंधी कोई भी कदम उनके साथ परामर्श के बाद ही लिया जाए।

बता दे कि प्रदेश के सात शहरों में एकीकृत बिजली सेवाओं के निजीकरण की योजना को वापस लेने के सरकार के इस निर्णय के बाद मुरादाबाद में बिजली विभाग के कर्मचारियों ने बम-पटाखे चलाकर अपनी खुशी का इजहार किया।

Advertisement

img
img