भारत का समर्थन हासिल नही होने पर चीन हुआ परेशान

पोलखोल न्यूज़, नई दिल्ली 4/25/2018 2:56:30 AM
img

विवादित बेल्ट एंड रोड इनीशिएटिव पर चीन को भारत का समर्थन हासिल नहीं हो सका है। मंगलवार को खत्म हुई शंघाई सहयोग संगठन के विदेश मंत्रियों की बैठक में बाकी देशों ने इस परियोजना का समर्थन किया। पीएम मोदी की यात्रा से पहले चीन इस कोशिश में था कि इस प्रोजेक्ट पर भारत का समर्थन हासिल हो जाए लेकिन उसे इस मामले में सफलता नहीं मिल सकी।प्रोजेक्ट के तहत चीन और पाकिस्तान के बीच 54 अरब डॉलर की लागत वाला इकोनॉमिक कॉरिडोर बनाया जा रहा है| चीन से पाकिस्तान के ग्वादर बंदरगाह तक जाने वाला यह कॉरिडोर पाकिस्तान प्रशासित कश्मीर से होकर गुजरता है| शुक्रवार और शनिवार को भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चीन का दौरा करने वाले हैं| इस दौरान चीनी शहर वुहान में उनकी चीनी राष्ट्रपति से मुलाकात होगी| माना जा रहा है कि चीनी राष्ट्रपति एक बार फिर यह मुद्दा उठाएंगे| हो सकता है कि दोनों पक्षों के बीच सीमा विवाद और इस प्रोजेक्ट को लेकर तोल मोल भी हो| बैठक के बाद जारी संयुक्त बयान के मुताबिक, कजाखिस्तान, किर्गिस्तान, पाकिस्तान, रूस, ताजिकिस्तान और उज्बेकिस्तान ने इस परियोजना के प्रति अपना समर्थन दोहराया है। समर्थन करने वाले देशों की सूची से भारत का नाम नदारद है। भारत और पाकिस्तान को इस संगठन में पिछले साल ही शामिल किया गया है और इस परियोजना के गुलाम कश्मीर से होकर गुजरने की वजह से भारत इसका विरोध करता रहा है।चीन और अमेरिका के बीच छिड़ चुके कारोबारी युद्ध का असर भी बीजिंग की विदेश नीति पर दिखने लगा है| चीन भारत के साथ नर्म हुआ है|


Advertisement

img
img