देहरादून : उत्तराखंड की सरकार किसानों को बड़ी राहत देने जा रही

पोलखोल न्यूज़, देहरादून 4/25/2018 4:51:56 AM
img

 उत्तराखंड की सरकार अब किसानों की आय को दोगुना करने की कोशिशों में जुटी है। उत्तराखंड की राज्य सरकार किसानों को बड़ी राहत देने जा रही है।वही  हिमाचल प्रदेश की तर्ज पर उत्तराखंड के दूरस्थ क्षेत्रों के कृषक भी अब परिवहन निगम की बसों के जरिये सस्ती दरों पर फूल, फल-सब्जी जैसे  उत्पादकों को अन्य राज्यों की मंडियों तक आसानी से पहुंचा सकेंगे। इसके लिए किराया टिकट का एक चौथाई  पर शासन स्तर पर गंभीरता से मंथन चल रहा है। वर्तमान में परिवहन निगम की बसों में व्यवस्था है कि यात्री पर्वतीय क्षेत्र में अपने साथ 25 किलो और मैदानी क्षेत्र में 20 किलो तक सामान ले जा सकता है। इससे अधिक सामान होने की दशा में उसकी बुकिंग करानी पड़ती है, जिसके लिए दरों का निर्धारण तय है। इसके लिए शर्त ये है कि सामान ले जाने वाली सवारी भी बस में हो। अलबत्ता, फूलों के ढुलान में सवारी की बाध्यता नहीं है। इसके लिए प्रति पेटी का साइज तय है, जिसका गंतव्य स्थल तक एक पेटी पर एक टिकट की 50 फीसद राशि देनी होती है। इसका लाभ राज्य के रामनगर, अल्मोड़ा समेत कुछ अन्य क्षेत्रों के कृषक लाभ उठा रहे हैं, मगर इनकी संख्या कम है। दूरस्थ क्षेत्रों के कृषकों को इसका लाभ नहीं मिल पा रहा था। इस बीच हार्क संस्था के संस्थापक महेंद्र कुंवर की ओर से शासन को सुझाव दिया गया कि इसके लिए राज्य में हिमाचल की तर्ज पर व्यवस्था की जाए। हिमाचल में परिवहन निगम की बसों की छत का उपयोग फूल, फल-सब्जी जैसे उत्पादों को लाने-ले जाने में किया जाता है और वह भी बेहद सस्ती दरों पर। उनका कहना था कि राज्य में ऐसा करने से पुष्पोत्पादकों के साथ ही फल-सब्जी उत्पादन में लगे किसानों को न सिर्फ मंडियों तक अपने उत्पाद पहुंचाने में मदद मिलेगी, बल्कि उन्हें बेहतर दाम भी मिलेंगे। मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह ने बताया कि परिवहन निगम की बसों में फूल व फल-सब्जी ढुलान के मद्देनजर किराया एक चौथाई करने पर विचार चल रहा है।  इस प्रस्ताव पर गंभीरता से मंथन चल रहा है।जल्द ही इसके बारे में फैसला लिया जाएगा।  

Advertisement

img
img