सुप्रीम कोर्ट में जस्टिस नियुक्त होने वाली पहली महिला जज : इंदु मल्होत्रा

पोलखोल न्यूज़, नई दिल्ली 4/26/2018 12:14:38 AM
img

पहली महिला वकील होंगी जो सीधे सुप्रीम कोर्ट की जज बनेंगे। सरकार ने वरिष्ठ अधिवक्ता इंदू मल्होत्रा को सुप्रीम कोर्ट का न्यायाधीश नियुक्त किए जाने को मंजूरी दे दी है। केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट कोलेजियम की सिफारिश मानते हुए सीनियर एडवोकेट इंदु मल्होत्रा को जज बनाने को अपनी मंजूरी दे दी है | जबकि सुप्रीम कोर्ट में जस्टिस आर बानुमति के बाद इंदु दूसरी महिला जज होंगी | इंदु मल्होत्रा शुक्रवार को अपने पद की शपथ लेंगी। सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश जस्टिस दीपक मिश्रा के अलावा जस्टिस जे चेलमेश्वर, जस्टिस रंजन गोगोई ने उनके नाम को स्वीकृति दी है। इंदु मल्होत्रा के अलावा कुल 12 नामों पर मंजूरी दी गई है जोकि चार कोर्ट के जज होंगे। गुजरात हाई कोर्ट के लिए पांच जज, छत्तीसगढ़ हाई कोर्ट के लिए चार जज, मद्रास हाई कोर्ट के लिए दो जज और बॉम्बे हाई कोर्ट के लिए एक जज के नाम का प्रस्ताव पास किया गया है। सुप्रीम कोर्ट में शुरुआत के 39 वर्षों में कोई महिला जज नहीं रही| 1989 में फातिमा बीबी को सुप्रीम कोर्ट की जज बनाया गया| इसके बाद जस्टिस सुजाता मनोहर, जस्टिस रुमा पाल, जस्टिस ज्ञान सुधा मिश्रा और जस्टिस रंजना देसाई को सुप्रीम कोर्ट में जज नियुक्त किया गया|  इंदु मल्होत्रा आजादी के बाद से अभी तक सुप्रीम कोर्ट की जज बनने वाली छठी महिला होंगी|  फिलहाल जस्टिस जी रोहिणी और आर बानुमति सुप्रीम कोर्ट में महिला जज हैं | न्यायमूर्ति जोसेफ के नाम की सिफारिश कर कालेजियम ने वरिष्ठता और क्षेत्रीय प्रतिनिधित्व का सम्मान नहीं किया है। वह हाईकोर्ट के 669 न्यायाधीशों की वरिष्ठता सूची में 42वें स्थान पर हैं।

Advertisement

img
img