मैदान से अतिक्रमण हटाने गई टीम पर पथराव

पोलखोल न्यूज़, ऋषिकेश | 7/26/2016 1:44:09 AM
img

खेल मैदान से अतिक्रमण हटाने पहुंची खेल विभाग और तहसील प्रशासन की टीम पर अतिक्रमणकारियों ने पथराव कर दिया। टीम के साथ हाथापाई भी की गई। पथराव होने से टीम को कार्रवाई बीच में रोक बैरंग लौटना पड़ा। रायवाला बाजार स्थित खेल मैदान से अनाधिकृत कब्जे हटाने का खेल विभाग ने दो दिन पहले अल्टीमेटम दिया था। चेतावनी की समय सीमा समाप्त होने पर सोमवार को खेल विभाग और तहसील प्रशासन की टीम पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंची। खेल मैदान में जहां तहां संचालित खोखो, रेहड़ी को हटाने की कार्रवाई शुरू की। जेसीबी चलने पर कब्जा करने वाले लोगों ने कार्रवाई का विरोध किया। जिस पर पुलिस और पीआरडी ने हल्का बल प्रयोग कर उन्हें खदेड़ा, तभी एक खोखा संचालक चक्कर आने से जमीन पर गिर गया। इसे देख अतिक्रमण विरोधी टीम से उलझ गए। प्रशासनिक अधिकारियों से हाथापाई की और जेसीबी पर पथराव किया। पथराव होने पर मौके पर भगदड़ मच गई। प्रशासनिक टीम के सदस्यों ने वहां से भागकर अपनी जान बचाई। युवा कल्याण विभाग की ब्लाक अधिकारी विनीता नौटियाल ने फोन पर उपजिलाधिकारी कुश्म चौहान को घटना की जानकारी दी। उपजिलाधिकारी ने जिलाधिकारी के आदेश पर खोखा स्वामियों के लिए अग्रिम व्यवस्था नहीं होने तक अतिक्रमण विरोधी कार्रवाई नहीं करने को कहा है। खेल मैदान पर कब्जा जमाने वाले खोखा संचालकों ने अतिक्रमण की कार्रवाई रोकने के लिए तहसील प्रशासन से गुहार लगाई थी। बताया कि उन्हें मुख्यमंत्री कार्यालय से समय मिला है, लेकिन लिखित सूचना नहीं होने के कारण प्रशासन ने अतिक्रमण को हटाने की कार्रवाई। कार्रवाई के बीच मुख्यमंत्री कार्यालय से अतिक्रमण की कार्रवाई रोकने का आदेश आया तो प्रशासन बैकफुट पर आ गया। संज्ञान में आया है कि खेल मैदान पर कब्जा करने वाले सभी हाईवे के विस्तारीकरण से प्रभावित हैं। हाईवे की जद में आने से जिनकी दुकानें टूट चूकी हैं। जिला पंचायत ने सभी को दुकान बनाकर देने का आश्वासन दिया है। अतिक्रमण विरोधी कांर्रवाई के बीच जिलाधिकारी के निर्देश अग्रिम व्यवस्था नहीं होने तक कार्रवाई नहीं की जाए। लिहाजा अतिक्रमण विरोधी कार्रवाई बीच में रोकनी पड़ी।

Advertisement

img
img