ओएनजीसी के रिटायर्ड अधिकारी की हत्या के मामले में तीन गिरफ्तार

पंकज राणा, न्यूज़ पोलखोल, देहरादून 7/27/2016 2:27:41 AM
img

राजधानी में बढ़ती प्रोपर्टी की कीमत इंसानी जान पर भारी पड़ रही है। नेहरू कॉलोनी थाना क्षेत्र से रविवार को लापता हुए ओएनजीसी के रिटायर्ड अधिकारी मोहन सिंह पयाल की हत्या की वजह भी प्रोपर्टी विवाद ही है। इस मामले में पुलिस ने एक ही परिवार के तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने खुलासा करते हुए बताया कि पकड़े तीनों आरोपी पति, पत्नी और उनका बेटा है। इन तीनों ने ही मिलकर मोहन पयाल की हत्या की और सभी सबूतों को छुपाने के लिए शव को भी जलाने का प्रयास किया था। हलांकि रात को तेज बरसात के चलते शव पूरी तरह नहीं जल सका था।भोगपुर निवासी जोगिन्दर, पत्नी सत्यवती और उनके बेटे मोहन की हत्या की योजना बनाई थी। पुलिस के मुताबिक मोहन पयाल ने जोगिन्दर के भाइयों से कुछ सालों पहले भोपालपानी रायपुर में भूमि खरीदी थी। उसी भूमि से निकल रहे रास्ते के भुगतान की रकम को लेकर जोगिन्दर और मोहन विवाद चल रहा था। इसी विवाद को सुलझाने के लिए रविवार को मोहना और जोगिंदर उसी प्लाट पर मिले थे। जहां भुगतान को लेकर दोनों में झगड़ा हो गया। इसी बीच जोगिंदर ने मोहना के सिर पर हथौड़े से वार कर दिया। मोहन की मौके पर ही मौत हो गई। इसके बाद जोगिंदर और परिवार के दो अन्य लोगों ने बड़े ही शातिराना ढंग मोहन के शव को कपड़े में लपेट जंगल में ले गएए जहां उन्होंने उसे चलाने की कोशिश की। लेकिन बारिश होने की कारण शव पूरी तरह से चल नहीं पाया। आरोपियों ने वहीं से कुछ दूरी पर मोहन की कार में भी आग लगा दी थी। जिसे पुलिस ने बरामद कर लिया। तीनों आरोपियों ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है।

Advertisement

img
img