आचार्य बालकृष्ण का जन्मोत्सव जड़ी-बूटी दिवस के रूप में मनाया गया

पोलखोल न्यूज़ 8/4/2016 12:20:21 AM
img

पतंजलि योगपीठ के महामंत्री और पतंजलि विश्वविद्यालय के कुलपति आचार्य बालकृष्ण का जन्मोत्सव गुरुवार को जड़ी-बूटी दिवस के रूप में मनाया गया। इस दौरान पतंजलि योगपीठ के अंतर्गत आयुर्वेद एवं कृषि क्षेत्र में सेवारत प्रतिभाओं को पतंजलि आयुर्वेद गौरव एवं पतंजलि कृषि गौरव से सम्मानित किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ योगगुरु बाबा रामदेव की ओर से संचालित योग विज्ञान शिविर से किया गया। इसके बाद सेवाव्रती कार्यकर्ताओं के साथ वानप्रस्थाश्रम में यज्ञायोजन हुआ। इसी कार्यक्रम में केंद्रीय परिवहन नितिन गडकरी ने बतौर मुख्य अतिथि शिरकत की। उन्होंने कहा कि बाबा रामदेव और आचार्य बालकृष्ण ने योग और आयुर्वेद को विश्व स्तर पर बढ़ाया है। कहा कि केंद्र सरकार प्लास्टिक की बोतलों की जगह बायो प्लास्टिक बोतलों के निर्माण पर काम कर रही है, इन्हें गन्ने की खली आदि से बनाया जायेगा। इस दौरान बाबा रामदेव ने प्लास्टिक बोतलों की जगह पूरे पतंजलि योगपीठ परिवार द्वारा बायो बोतल के इस्तेमाल की घोषणा की। आचार्य बालकृष्ण ने कहा कि पतंजलि योगपीठ देसी गायों के संवर्धन पर काम कर रहा है ताकि देशी गाय 30 से 40 लीटर दूध प्रतिदिन दे। उन्होंने बताया कि इस काम में ब्राजील का वैज्ञानिक अनुसंधान सहयोग लिया जा रहा है। जूना आखाड़े के आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी अवधेशानंद गिरि ने कहा कि पतंजलि योगपीठ बाबा रामदेव व आचार्य बालकृष्ण ने योग और आयुर्वेद को पूरे विश्व में स्वस्थ जीवन जीने की शैली के रूप में फैलाया है। आज योग और आयुर्वेद को पूरे विश्व में स्वस्थ जीवन जीने की शैली का धर्म बना दिया। बाबा रामदेव और आचार्य बालकृष्ण ने देश को कम समय में इतना सब कुछ दे दिया कि अब उन पर शोध करने की आवश्यकता है।

Advertisement

img
img