भारी-भरकम बिल बनाने के लिए पारस हॉस्पिटल में मरी हुई महिला का हो रहा था इलाज

पोलखोल न्यूज़ 8/19/2016 10:49:54 PM
img

पटना के पारस हॉस्पिटल ने मानवता का शर्मसार करने वाला ऐसा काम किया है कि जिसे देखकर इस पवित्र पेशे से मन विरक्त हो जाए। रिपोर्टों के मुताबिक एक युवती का दावा है कि उसकी मां का इलाज के दौरान मौत हो जाने के बाद भी उसे आईसीयू में इलाज के नाम पर रखा गया। यह सबकुछ भारी-भरकम बिल बनाने के लिए किया गया है। युवती को जानकारी तब हुई जब वह आइसीयू में गयी। पटना के पारस हॉस्पिटल के डॉक्टरों आरोप लगा है कि वो लोग मौत होने के बाद भी एक महिला का इलाज करते रहे। डेड बॉडी के इलाज नाटक दो दिन तक चलता रहा। दो दिन बाद जब बेटी किसी तरह आईसीयू में घुसी तो इस नाटक से पर्दा उठा। बताया जा रहा है कि सीतामढ़ी जिले के सिमरा की 61 साल की शैल देवी को उसके परिजनों ने इलाज के लिए पटना के एक निजी हॉस्पिटल में 6 अगस्त को भर्ती कराया था। उन्हें पेट संबंधी बीमारी थी। इलाज के बाद भी महिला की हालत में सुधार नहीं हुआ। 14 अगस्त के बाद हॉस्पिटल मैनेजमेंट ने आईसीयू में भर्ती महिला को देखने की इजाजत परिजनों को नहीं दी। उनका कहना था कि मरीज की हालत नाजुक है इसलिए किसी को आईसीयू में नहीं जाने देंगे। बाद में महिला की बेटी किसी तरह आईसीयू में गई तो देखकर सन्न रह गई कि उसकी मां मृत है। मॉनिटर में पल्स और हार्ट बीट जीरो दिख रहा था। मृत महिला की बेटी ने चिल्लाना शुरू किया तब हॉस्पिटल स्टाफ इलाज का नाटक करने लगे। मृत महिला की भतीजी ने किसी तरह इस पूरी घटना का वीडियो बना लिया। मोबाइल से वीडियो बनाते देख हॉस्पिटल के डॉक्टर भड़क गए और महिला को आईसीयू से चले जाने को कहने लगे, लेकिन वह डटी रही। परिजनों की शिकायत पर पुलिस ने हॉस्पिटल के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।

Advertisement

img
img